छोटू दो कट चाय ला हर 11वां बाल मजदूर

छोटू दो कट चाय ला --- छोटू नाश्ता लगा -- यह ऐसे वाक्य है, जो हमे होटल और ढाबों में सुनाई देते हैं | साथ ही कई होटल और ढाबों पर बाल श्रमिक प्रतिबंधित है,लिखी सूचना बोर्ड पर भी मिल जाती है| देश में बालश्रम उन्मूलन के लिए व्यापक कानून तो है,लेकिन देश प्रशासनिक इक्छा शक्ति की कमजोरी के कारण बालश्रम की समस्या से निजात पाने में असफल रहा हैं |